SHARE

मुलायम सिंह ने इस बार जो बयान दिया है उसे सुनकर किसी भी हिन्दू का खून खौल उठेगा, ये बयान सुनकर वो पुरानी यादे फिर से ताजा सी हो गयी है जो राम मंदिर के लिए प्रयासरत कारसेवको पर गोली चलाने के लिए दिए गये आदेश की देते वक्त बनी थी आज भी हिन्दू लोग वो दर्द भूल   नही पाए है और वो जख्म आज भी हरे है, जब कार सेवको ने बाबरी को ध्वस्त करने निकले थे तो हर तरफ जय श्री राम का उद्घोष था लेकिन तब उनके खिलाफ कुछ तैयार हो रहा था जो उन्होंने सोचा ही नहीं था

कारसेवको ने मिलकर उस बिल्डिंग को तो ढहा दिया लेकिन तब उसके बाद उनपर गोलियां चली और कई लोग मारे गये उसपर आज फिर से मुलायम सिंह ने जो कहा है उसने जख्म हरे कर दिए है

mulayam

 

मुलायम सिंह ने इस बार फिर से उन जख्मो को कुरेदते हुए कहा कि मुझे उन पर गोली चलवाने का अफसोस है लेकिन हालात काबू करने के लिए ये करना जरूरी था, तो क्या सिर्फ गोली चलाने से ही हालत काबू हो सकते है ? इस देश में पहले भी ऐसी कई घटनाएं होती रही है जब सामाजिक उपद्रव हुए तो क्या हर जगह गोलियां चली ? लाठियां होती है, पानी की बौछारे होती है और भी कई रास्ते होते है लेकिन इसके बावजूद खून खराबा करने का रास्ता चुना गया जो कि बेहद शर्मनाक भी है

ये विडियो youtube पर एक न्यूज़ चैनल के द्वारा पब्लिश किया गया है जिसने हमारी आत्मा को अंदर तक हिलाकर रख दिया है और फिर सोचने को मजबूर कर दिया है कि क्या हम वही बहुसंख्यक है जिन्हें आज अपने ही अस्तित्व पर खतरा आते दिख रहा है ?  चलिए फिर देखते है विडियो

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY