SHARE

हम आज 21 वी सदी में जी रहे है लेकिन आज आप जो चीज पढेंगे वो आपको शर्मसार कर देगी आपको अपनी नजरे झुकानी पड़ सकती है ऐसी घटना हो चुकी है मित्रो, घटना नासिक की है लड़का एक बड़ी कम्पनी में नौकरी करता है और काफी पढ़ा लिखा भी है, लडकी अहमदनगर से है और दोनों ने ही कुछ समय पहले शादी की थी मामला हालांकि अब जाकर प्रकाश में आया है, शादी के दौरान लडके की डिमांड थी कि उसे एक वर्जिन लडकी ही चाहिए यही सोचकर उसने शहर का होते हुए भी गाँव की लडकी से शादी करने की सोची

फिर उसने सुहागरात के दौरान सफ़ेद चादर के जरिये अपनी पत्नी का वर्जिनिटी टेस्ट करने का फैसला किया और सुबह उठकर देखा तो वहां रक्त के छींटे नहीं थे तो उसने आगबबूला होकर गाँव की पंचायत बुलाई और अपने आरोप पंचायत के सामने रख दिए आगे जो हुआ वो तो और भी हैरान करने वाला था

पंचायत ने काफी देर विचार विमर्श करने के बादमे लडकी के विरुद्ध लड़के के पक्ष में फैसला सुना दिया और कहा वर्जिन न होने की स्थिति में वो अपनी पत्नी को छोड़ सकता है, इसी के साथ अन्याय का एक अध्याय समाप्त कर दिया गया उस सफ़ेद चादर में ढककर लेकिन इसके बाद भी लडकी ने इसके खिलाफ पुलिस कम्प्लेन करानी चाही

nasik

तो उसे घर में बंद कर दिया गया, लडकी काफी समय से दावा कर रही है कि वो वो पुलिस भर्ती की तैयारी कर रही है इसलिए ऐसा हुआ है वो सही में एक कुंवारी ही है और उसपर लगाये सारे आरोप गलत है, ये बहुत ही शर्मिंदगी की बात है कि आज के समय में भी जब लड़कियां स्पोर्ट्स जैसे खेलो में आगे जा रही है उसमे सफ़ेद चद्दर जैसे पुरातनपंथी तरीको और विचारों के आधार पर लडकी का चरित्र तय किया जाता है

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY