SHARE

जयललिता के शव को जल्द ही कब्र से निकाला जा सकता है, सुनने में थोडा अजीब लग रहा है न? लेकिन ये बात सच होने की बहुत ही ज्यादा संभावनाए भी दिख रही है, इसे लेकर पीएम मोदी तक को नोटिस जा चुका है आप भी जानना चाह रहे होंगे आखिर इसके पीछे वजह क्या है? दरअसल कुछ समय से मीडिया भी जयललिता की मौत को सवालों के घेरे में खडी कर रही है और इसके पीछे किसी बड़ी साजिश का हाथ भी बता रही है इसी मामले में एक पार्टी कार्यकर्ता पीए जोसेफ के द्वारा भी  मद्रास हाईकोर्ट में भी याचिका दायर की गयी है

इसी पर संज्ञान लेते हुए हाईकोर्ट ने कहा अगर जरूरत पडी तो जांच के लिए जयललिता के शव को निकाला नहीं जा सकता है क्या? पीए जोसेफ ने इस मामले को लेकर एक निष्पक्ष कमिटी बनाने की मांग की है जो कि इसकी पूरी सत्यता के साथ तह तक जाकर जांच करे

jaylalita

 

आपको बता दे जब अम्मा अस्पताल में भर्ती हुई थी वो बस मामूली रूप से बीमार थी, लेकिन कुछ ही समय बाद ये गंभीर बीमार में बदल गयी हॉस्पिटल में होते हुए भी, इसलिए ये बात शक के दायरे में आती है, हाईकोर्ट की बेंच ने भी कहा है जब अम्मा गयी तो एकदम प्रॉपर डाइट पर थी और अब अचानक से उनकी मृत्यु कैसे हो सकती है? इसी को लेकर हाईकोर्ट ने राज्य की सरकार और केंद्र की मोदी सरकार को भी नोटिस देकर पूछा है कि क्या अब जयललिता जी के शव को निकाला जा सकता है?

modi

अम्मा तो चली गयी लेकिन जाते जाते कुछ सवाल छोड़ गयी जिनके जवाब ढूंढना बेहद मुश्किल होगा और इसमें कई साल बीत जायेंगे ये भी बात स्पष्ट है लेकिन जो भी हो रहा है बेहद ही आश्चर्यजनक और निराशा भरा है आपको बता दे मामूली सी बीमारी के साथ अपोलो में एडमिट हुई अम्मा को 4 दिसम्बर को दिल का दौरा पड़ा था जिससे वो कभी उबर नहीं पायी और अपने चाहने वालो को हमेशा के लिए अलविदा कह गयी

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY