शादी से पहले सोनिया गांधी कैसी थी क्या करती थी ? :...

शादी से पहले सोनिया गांधी कैसी थी क्या करती थी ? : जन्मदिन स्पेशल

6237
0
SHARE

सोनिया गांधी शादी से पहले कौन थी क्या करती थी इसे लेकर काफी सवाल उठते रहते है और सबसे ज्यादा सवाल खड़े करने वाले नेता रहे है सुब्रमहणयम स्वामी, उन्होंने सोनिया गांधी पर कई आरोप भी लगाए कि वो शादी के पहले ऐसी थी वैसी थी लेकिन आखिर इन सबके पीछे क्या हकीकत है? चलिए आज एक एक कड़ी खोलकर देखते है

आपको जानकर हैरान नहीं होना चाहिए कि सोनिया गांधी का असली नाम एंटोलिना माइलो था इटली के एक परिवार में जन्म लेने वाली लडकी भारत की सबसे ताकतवर राजनीतिक हस्ती बन जायेगी ऐसा तो कोई सपने में भी नहीं सोच सकता, सोनिया गांधी के पिता एक फासिस्ट सिपाही थे

sonia-rajiv-catchlive

बड़ी होते ही वो विदेश पढने चली गयी लेकिन वहां पर सोनिया राजीव गांधी से मिली लेकिन क्या आप जानते है? राजीव गांधी से मिलने से पहले सोनिया क्या थी और वो किसी और से प्यार भी करती थी तो क्या राजीव गांधी की दौलत के लिए पहला प्यार छोड़ा

सोनिया गांधी का पहला प्यार फ्रांको था, सोनिया गांधी तब सिर्फ 16-17 रही होगी और उनको एक फुटबालर फ्रांको से प्यार हो गया था उनका रिश्ता काफी आगे तक बढ़ गया था सोनिया और फ्रांको एक दुसरे के काफी करीब भी आ चुके थे, दोनों शादी तक करने वाले थे लेकिन आखिर में अचानक फ्रांको का मूड बदल गया और कहने लगे मुझे अपने करियर पर फोकस करना है

soniya-gandhi-560x640

इस बात से सोनिया का दिल टूट गया और वो फ्रांको से दूर चली गयी, फिर वो पढ़ाई के दौरान राजीव गांधी से मिली और उनके प्यार में पड़ गयी इसके बाद वो फ्रांको को भूल गयी फिर शादी करके भारत आ गयी और अपनी सासू जी इंदिरा गांधी के साथ रहने लगी, इसी दौरान दो बच्चो प्रियंका और राहुल को जन्म दिया और इसके बाद राजीव की ह्त्या कर दी गयी तो सोनिया गांधी राजनीति में उतरी

इसके बाद अपने राजनीतिक करियर में इतने ऊपर तक पहुँची की कांग्रेस की अध्यक्ष तक बनी लेकिन क्या जो दिखता है वही सच है ?

सुब्रमाहणयम स्वामी तो सोनिया के इतिहास के बारे में कुछ और ही कहते है

स्वामी जी के पास कोई ठोस सबूत तो नहीं है लेकिन इतनी बड़े नेता की बातो को भी नकारा तो नहीं जा सकता है, स्वामी जी का कहना है कि आज भी सोनिया गांधी भारत की बेश्कीमती मूर्तियों की तश्करी इटली में करती है ताकि उसकी बहने ऐश से रह सके

sur

उन्होंने सोनिया गांधी के चरित्र पर भी कई बार सवाल उठाये और तो और उन्होंने कहा वो कहाँ पढ़ी है कितनी पढी है ये सब झूठ फैलाया जाता रहा है वो कुछ भी नहीं है

सिर्फ राजीव को फंसाया गया था जाल में और उसे राजनीति में घुसने के लिए पायदान बना लिया गया

खैर इन सब आरोपों में कितना सच है ये तो इश्वर ही जाने लेकिन वाकई में ये जीवन है बहुत ही भुलभुलैया

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY